-->

UNIT 1

देश में जनता कर्फ्यू

देश में जनता कर्फ्यू

21 दिन का लॉक डाउन
COVID-19
22 मार्च को लगेगा देश में जनता कर्फ्यू 

जैसा कि आप सभी जानते हैं। की आज हमारे देश में ही नहीं बल्कि संसार के बहुत से देशों में कोरोना वायरस महामारी ने कहर मचाया हुआ है। आज चारों तरफ अखबार से लेकर टीवी न्यूज़ तक कोरोना वायरस के चर्चे देखने को मिल रहे हैं

चीन से हुई शुरुआत ।

जैसा कि हम सब जानते हैं। की करोना वायरस चीन की ही देन है। इसकी शुरुआत चीन के बुहान शहर से हुई है। क्रोना वायरस से पीड़ित पहला मामला दिसंबर 2019 को चीन के वुहान शहर में पाया गया था। परंतु चीनी सरकार ने उस समय इसका कोई जिक्र नहीं किया। जिसका परिणाम यह हुआ कि इस वायरस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया और देखते ही देखते यह वायरस पूरे बुहान शहर में फैल गया। इसके बाद तो मानो करोना वायरस की लहर ही चल पड़ी हो फिर यह चीन के और भी कई शहरों में फैला और ऐसे करके पूरा चीन देश इसकी चपेट में आ गया। पर अब तो इस वायरस ने कई देशों को अपने जाल में फंसा लिया है।

भारत में कोरोना वायरस की शुरुआत ।

भारत में क्रोना वायरस का सबसे पहला मामला केरल में पाया गया। बताया जा रहा है कि वह मरीज कुछ दिन पहले चीन से होकर आया था। इसके बाद तो मानो कोरोना वायरस ने अपने पैर पूरे भारत में प्रसार लिए हो। हर दिन कहीं ना कहीं नए मामले सामने आ रहे हैं। पूरे संसार में कोरोना वायरस के अब तक 127000 के करीब मामले पाए गए हैं। करोना वायरस से मरने वालों की संख्या सबसे ज्यादा इटली में पाई गई है। इटली के एक शहर में लगभग 2500 लोग इस बीमारी से ग्रस्त होकर मर गए हैं। क्रोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए पहले राज्य सरकारों ने सरकारी निजी स्कूल बंद कर दिए थे। फिर फिर दोबारा कोरोना वायरस के प्रभाव को देखते हुए सरकार ने सभी बड़े बड़े मॉल,मार्केट या कोई भी ऐसा स्थान जहां पर लोग इकट्ठा होते हैं उसे बंद करने की अनुमति दे दी। लेकिन अब भी कोरोना का प्रभाव कम नहीं हो रहा है। ऐसा देखते हुए सरकार ने शाम के समय दवाई छिड़काव का भी इंतजाम भी किया। लेकिन हमारे सभी प्रयास कोरोना वायरस के आगे कम पड़ रहे हैं मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है।

रविवार 22 मार्च को लगेगा जनता कर्फ्यू ।

दिन प्रतिदिन कोरोना के मामलों को बढ़ता देख देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी ने दिन रविवार 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का ऐलान किया है। इस कर्फ्यू की बात को लेकर सभी बड़े बड़े नेताओं ,अभिनेताओं और सभी देश के विद्वान लोगों तथा देश की जनता ने उनका साथ देने की बात कही है।

मोदी जी का जनता कर्फ्यू का विचार।

गुरुवार को मोदी जी ने एक संशोधन किया। इसमें मोदी जी ने लोगों को कुरौना वायरस महामारी को रोकने में सभी को अपना सहयोग देने की अपील की और कहा कि अगर हम इस महामारी को रोकना चाहते हैं तो हमें मिलकर चलना होगा। सरकार के आदेशों का पालन करना होगा।तभी हम सभी मिलकर इस वायरस से छुटकारा पा सकते हैं।
गुरुवार रात मोदी जी ने संशोधन में लोगों से अपील की दिन रविवार 22 मार्च को पूरा दिन कर्फ्यू रहेगा। जिसका समय सुबह 7:00 बजे से लेकर शाम 9:00 बजे तक का होगा। इस समय अंतराल में सभी देशवासियों को अपने घर में रहकर शांति का परिचय देना है। इस बीच आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को छोड़कर सभी देशवासी अपने घर से ना निकले और ना ही कहीं सार्वजनिक , धार्मिक स्थानों पर जाएं।
मोदी जी ने यह भी कहा कि इस कर्फ्यू में डॉक्टर,मीडिया और होम डिलीवरी करने वाले लोगों के लिए सभी देशवासियों ने शाम 5:00 बजे बालकनी या बगीचे में आकर तालिया ,थाली बजाकर उनको याद करना है जो ऐसे दुख की घड़ी में देश के साथ दिन रात देश के स्तंभ बन कर खड़े हैं।

21 दिन का लॉक डाउन ।

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 22 तारीख के जनता कर्फ्यू के बाद दोबारा से एक और ऐलान किया है। इसमें नरेंद्र मोदी जी ने कहा है कि अब पूरे देश में 21 दिन का लॉक डाउनलोड रहेगा। इस लॉक डाउन के दौरान सभी देशवासियों ने अपने घर में रहना है। डॉक्टर पुलिसकर्मी व अन्य सहायक  कर्मियों को ही बाहर निकलने का आदेश है। सभी को जरूरत के सामान सरकार द्वारा घर पर ही पहुंचाया जाएगा किसी ने भी घर से बाहर नहीं निकलना है। लॉक डाउन के चलते  बहुत सी सेवाओं को  3 महीने के लिए स्थगित कर दिया गया है। मेरा आप सभी से अनुरोध है कि सभी अपने घर में रहें सुरक्षित रहें।

0 Response to "देश में जनता कर्फ्यू"

Post a Comment

UNITE 2

UNITE 2

UNITE 2

UNITE 2